Shocking Success Stories of Manoj, Nawazuddin & Pankaj | Dr Ujjwal Patni | Fans must watch

तीनों Actors की Past की समानताएँ :-

  • Pankaj Tripathi- 5 September 1976 (Belsand Bihar)
  • Manoj Bajpayee- 23 April 1969 (Belwa- Bihar)
  • Nawazuddin Siddiqui- 19 May 1974 (Budhana UP)
  • तीनों को बेतहाशा Rejections का सामना करना पड़ा
  • तीनों को इतनी ग़रीबी कि एक काम सीख रहें हैं, एक काम के लिए दौड़ रहे हैं और दूसरी तरफ नौकरियां कर रहे हैं
  • किसी के पास भी Hero का किरदार नहीं है
  • Refused by Actress
  • Average Treatment
  • Humiliation 

तीनों कि आज क्या है ?

  • National & International Award Winner
  • Megastar of OTT
  • Method Actors
  • No Style
  • No Physique
  • No Wow Element
  • Heart Touching Actors

Manoj Bajpayee:

  • क्लास 5th में ही सपना देख लिया कि NSD (National School Of Drama) में ही जाऊंगा, और इसके लिए वो Entrance Exam में 3 बार हुए, और  Depression में चले गए 
  • 1 साल तो वह साल में 364 दिन दिल्ली में थिएटर करने गए और 1 दिन इसलिए नहीं जा पाए क्योंकि बारिश से दिल्ली डूब चुका था
  • Coach Barry John इनसे प्रभावित होकर इन्हें जॉब पर रख लिया, उस समय इनकी सैलरी महज ₹1500 थी, जो दिल्ली के पूरे थिएटर सर्किल में सबसे ज्यादा थी 
  • Manoj Bajpayee अपने एक इंटरव्यू में कहते हैं कि मैं शीशा नहीं देखता था क्योंकि मुझे अपनी शक्ल से नफरत थी
  • आज Manoj Bajpayee के पास “Padma Shri Award”, 2 National Award, 3 International Award हैं 

Nawazuddin Siddiqui:

  • I got my first job as a security guard posted outside a toy factory in Noida, और वहां से अपनी Low Personality के कारण निकाल दिए गए 
  • रहने और खाने के लिए के लिए NSD के एक Senior से बहुत आग्रह करने पर As a COOK रख लिया गया
  • दिन भर Roles के लिए घूमते सुबह-शाम खाना बनाते, 4-5 साल छोटे छोटे रोल करते रहे, GiveUp करने का सोचा लेकिन वापस जाकर गाव वालों के ताना मरने के डर से वो भी नहीं कर पाए
  • 12 साल तक Struggle करते रहे और हर रोज कई बार Rejections मिलते और लोग कहते शक्ल तो देख अपनी  
  • रोमांटिक Movies में Heroines काम करने के लिए मना कर देती
  • Nawazuddin Siddiqui कहते हैं कि मैंने जिंदगी में खुद को कोई Target नहीं दिया कि इतने साल में मैं सफल हो जाऊंगा, सफलता के लिए समय का कोई टारगेट नहीं होता 

Pankaj Tripathi-

  • Pankaj Tripathi take up a course on  Hotel Management at food craft Institute in Patna
  • रात भर Kitchen में काम करते दिन भर Theater करते और 5 घंटे कि नींद मिलती
  • पैसों के अभाव में NSD पहुंचे तो पता चला एडमिशन के लिए Graduation होने जरूरी है तो फिर वापस आकर 3 साल तक Literature में Graduation किया
  • Survival is important, art is secondary if you are not alive how can you create art?”– Pankaj Tripathi

Learnings

  • जिंदगी बदलने के लिए पोथी पत्रों की जरूरत नहीं, कब कौन सी बात मन के किस कोने में लग जाए और वहीं से परिवर्तन का दौर शुरू हो जाए, कोई नहीं जानता – Dr. Ujjwal Patni
  • जब आपके सपने चट्टानों से मजबूत हो तो उनसे भावनात्मक जुड़ाव होगा ही
  • Do a self-Introspection & Identify your Weakness
  • 1% से भी कम लोग लड़ते हैं, बाकी बहाने बनाते हैं या भाग्य से समझौता कर लेते हैं – Dr. Ujjwal Patni

Leave a Reply